Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

सफेद दाग (स्वित्र) वाले मरीजों के लिए डाइट प्लान : Diet Plan for Vitiligo (Leucoderma) Patient

आपने देखा होगा कि कई लोगों की त्वचा पर सफेद दाग हो जाते हैं। सफेद दाग त्वचा से संबंधित एक बीमारी है। इस बीमारी को विटिलिगो भी कहा जाता है। डॉक्टर के अनुसार, सफेद दाग में दर्द नहीं होता, और खुजली भी नहीं होती, लेकिन सूर्य की रोशनी में जाने पर सफेद दाग वाले स्थान पर थोड़ी जलन जरूर हो सकती है। अगर आप भी सफेद दाग की समस्या से ग्रस्त हैं, तो रोग का इलाज कराने के साथ-साथ आपको सफेद दाग के लिए डाइट चार्ट का पालन करना भी जरूरी हो जाता है। इसलिए यहां सफेद दाग में आपका डाइट प्लान क्या होना चाहिए। इसकी पूरी जानकारी दी जा रही है।
इस डाइट प्लान को अपनाकर आप ना सिर्फ सफेद दाग के बढ़ने पर नियंत्रण पा सकेंगे, बल्कि रोग से राहत भी प्राप्त कर पाएंगे।

सफेद दाग की बीमारी में क्या खाएं (Your Diet During Vitiligo Disease)

सफेद दाग की समस्या में आपका आहार ऐसा होना चाहिएः-

सफेद दाग की बीमारी में क्या ना खाएं (Food to Avoid in Vitiligo Disease)

सफेद दाग की समस्या में आपको इनका सेवन नहीं करना चाहिएः-
  • अनाज: नया धानमैदा
  • दाल:  काबुली चनादेशी चनामटर
  • फल एवं सब्जियां: आलू तथा अन्य कन्द मूल  
  • अन्यऐसे भोजन जो जलन व गैस उत्पन्न करे, तथा पाचन कम करे। दूधदही, मछलीगुड़,  उड़दठंडा भोजनदूषित पानीठंडा पानीसूखा भोजनठंडे भोज्य पदार्थतला हुआ एवं कठिनाई से पचने वाला भोजन |
  • सख्त मना: तैलीय मसालेदार भोजनमांसहार और मांसाहार सूपअचारअधिक तेलअधिक नमककोल्डड्रिंक्समैदे वाले पदार्थशराबफास्टफूडसॉफ्टडिंक्सजंक फ़ूडडिब्बा बंद खाद्य पदार्थ।
  • विरुद्ध आहार: (दूध +  मछली) एक साथ नहीं लेना चाहिए।

सफेद दाग के इलाज के लिए आपका डाइट प्लान (Diet Plan for Vitiligo/Leucoderma Treatment)

सफेद दाग के उपचार के लिए सुबह उठकर दांतों को साफ करने (बिना कुल्ला कियेसे पहले खाली पेट 1-2 गिलास गुनगुना पानी पिएं। नाश्ते से पहले पतंजलि आवंला व एलोवेरा स्वरस पिएं और इन बातों का पालन करेंः-

समयआहार  योजना (शाकाहार)
नाश्ता (8 :30 AM)कप पतंजलि दिव्य पेय + 2-3  पतंजलि आरोग्य बिस्कुट पोहा /उपमा (सूजी ) /  पतंजलि दलियाअंकुरित अनाज / 2 पतली रोटी  (पतंजलि मिश्रित  अनाज आटा) + 1 कटोरी  सब्जी/1 प्लेट फलों का सलाद (सेबपपीता, अनार)
दिन का भोजन     (12:30-01:30 PM1-2 पतली रोटियां (पतंजलि  मिश्रित अनाज आटा )+1 कटोरी हरी सब्जियां (उबली हुई ) + 1 कटोरी दाल +1 प्लेट सलाद
शाम का नाश्ता 
(5:30-6:00 pm)
कप पतंजलि दिव्य पेय + 2-3  पतंजलि आरोग्य बिस्कुट + 1कटोरी कॉर्न फ्लैक्स या शाकाहारी सूप
रात का भोजन   (7: 00 – 8:00 Pm)1-2  पतली रोटियां (पतंजलि  मिश्रित अनाज आटा ) + 1 कटोरी हरी सब्जियां (रेशेदार)  + 1 कटोरी दाल मूंग (पतली)
सलाहयदि मरीज को चाय की आदत है तो इसके स्थान पर कप पतंजलि दिव्य पेय दे सकते हैं |

सफेद दाग के इलाज लिए आपकी जीवनशैली (Your Lifestyle for Leucoderma Treatment)

सफेद दाग के उपचार के दौरान आपकी जीवनशैली ऐसी होनी चाहिएः-
  • टहलें।
  • हल्का व्यायाम करं।  
  • बिना पचे भोजन ना करें। 
  • गुस्साडरचिंता ना करें।
  • मूत्र और शौच को ना रोंकें। 
  • साबुन और डिटरजेंट का इस्तेमाल कम करें।
  • तांबे के बर्तन में पानी को 8 घण्टे रखने के बाद पीना चाहिए।
  • एक कटोरी भीगे काले चने और 3 से 4 बादाम हर रोज खाएं।
  • ताजा गिलोय या एलोवेरा जूस पिएं। इससे इम्यूनिटी बढ़ती है।

सफेद दाग रोग में ध्यान रखने वाली बातें (Points to be Remember in Leucoderma Disease)

सफेद दाग के उपचार के दौरान आपको इन बातों का ध्यान रखना हैः-
(1) ध्यान एवं योग का अभ्यास रोज करें।
(2) ताजा एवं हल्का गर्म भोजन अवश्य करें।
(3) भोजन धीरे-धीरे शांत स्थान में शांतिपूर्वकसकारात्मक एवं खुश मन से करें।
(4) तीन से चार बार भोजन अवश्य करें।
(5) किसी भी समय का भोजन नहीं त्यागें एवं अत्यधिक भोजन से परहेज करें।
(6) हफ्ते में एक बार उपवास करें।
(7) अमाशय का 1/3rd / 1/4th भाग रिक्त छोड़ें।
(8) भोजन को अच्छी प्रकार से चबाकर एवं धीरेधीरे खायें।
(9) भोजन लेने के बाद 3-5 मिनट टहलें।
(10) सूर्यादय से पहले [5:30 – 6:30 am] जाग जायें। 
(11) रोज दो बार दांतों को साफ करें।
(12) रोज जिव्हा करें।
(13) भोजन लेने के बाद थोड़ा टहलें।
(14) रात में सही समय [9- 10 PM] पर नींद लें। 

सफेद दाग रोग का उपचार करने के लिए योग और आसन (Yoga and Asana for Leucoderma Treatment)

सफेद दाग के उपचार के दौरान आपको ये योग और आसन करना चाहिएः-
  • योग प्राणायाम एवं ध्यानभस्त्रिकाकपालभांतिबाह्यप्राणायामअनुलोम विलोमभ्रामरीउदगीथउज्जायीप्रनव जप।
  • आसनसूक्ष्म व्यायामपश्चिमोत्तानासनहलासनमर्कटासनसर्वांगासन।

Post a Comment

0 Comments