थायरॉइड रोग के लिए डाइट प्लान (Diet Plan for Thyroid Gland Disorder)

थायराइड एक गंभीर रोग है। यह बीमारी किसी को भी हो सकती है। जब भी किसी व्यक्ति को थायराइड होता है तो शुरुआत में रोगी को थायरॉयड के लक्षणों का पता नहीं चलता, लेकिन जब बीमारी बढ़ जाती है तो कई तरह की परेशानियां होने लगती हैं। आमतौर पर यही देखा जाता है कि जब किसी व्यक्ति को थायराइड होता है तो वह डॉक्टर से थायराइड का इलाज कराता है, लेकिन क्या आपको पता है कि थायराइड का इलाज कराने के दौरान आपको उचित खान-पान की भी जरूरत होती है। 
जी हां, उचित खान-पान से ना सिर्फ आप थायराइड पर नियंत्रण पा सकते हैं बल्कि बीमारी की रोकथाम भी कर सकते हैं। आइए जानते हैं कि थायराइड होने पर आपका खान-पान कैसा होना चाहिए।

थायराइड रोग में क्या खाएं (Your Diet in Thyroid Gland Disorder)

थायराइड होने पर आपका आहार ऐसा होना चाहिएः-

थायरॉयड रोग में क्या ना खाएं (Food to Avoid in Thyroid Gland Disorder)

थायरॉयड होने पर आपको इनका सेवन नहीं करना हैः-
  • अनाज: नया चावलमैदा।
  • दाले: कुलथउड़दराजमाछोले।
  • फल एवं सब्जियांबैंगननींबूपत्तेदार सब्जियाँटमाटरखट्टे अंगूर,  कटहलअरबीअंकुरित अनाजगाजरसोयाबीन।
  • अन्य:  मछलीपनीरतीखा भोजनतैलीय मसालेदार भोजन,  कोल्डड्रिंक्सफास्टफूडजंक फ़ूडडिब्बा बंद खाद्य पदार्थ।
  • सख्त मना :- तैलीय मसालेदार भोजनअचारअधिक तेलकोल्डड्रिंक्समैदे वाले पर्दाथशराबफास्टफूडसॉफ्टड्रिंक्सजंक फ़ूडडिब्बा बंद खाद्य पदार्थमांसहार सूप,. कच्ची सब्जीब्रोकोलीपत्तागोभीफूलगोभीभिंडी

थायरॉयड के लिए आपका डाइट प्लान (Diet Plan for Thyroid Disease)

सुबह उठकर दांतों को साफ करने (बिना कुल्ला कियेसे पहले खाली पेट 1-2 गिलास गुनगुना पानी एवं नाश्ते से पूर्व पतंजलि आवंला व एलोवेरा रस पिएं। इसके साथ ही इन बातों का पालन करें।
समयआहार योजना शाकाहार )
नाश्ता (8 :30 AM)1कप दिव्य पेय पतंजलि 2-3 बिस्कुट (आरोग्यपतंजलि) / पोहा /उपमा (सूजी ) /दलिया कॉर्नफ्लैक्स /ओट्स मुरमुरे /  1-2 पतली रोटी (पतंजलि मिश्रित अनाज आटा ) + 1 कटोरी हरी सब्जियां /1 प्लेट फलों का सलाद / फलों का जूस (केला, अनारसंतरासेबपपीता) + ½ चम्मच पंचकोल चूर्ण के साथ
दिन का भोजन  (12:30-01:30 PM1-2 पतली रोटियां (पतंजलि मिश्रित अनाज आटा ) + 1 कटोरी हरी सब्जियां + 1 कटोरी दाल + 1 कटोरी मटठा /छाछ 1 प्लेट सलाद + पंचकोल चूर्ण
शाम का नाश्ता (3:30pm1कप दिव्य पेय पतंजलि 2-3 बिस्कुट आरोग्यपतंजलि सब्जियों का सूप /मूंग दाल पंचकोल चूर्ण
रात का भोजन (7: 00 – 8:00 Pm)1-2 पतली रोटियां (पतंजलि मिश्रित अनाज आटा ) + 1 कटोरी हरी सब्जिया (रेशेदार) + 1 कटोरी दाल मूंग (पतली)
सोते समय 10:00:00 PMचम्मच  त्रिफला चूर्ण / पतंजलि हरिद्राखण्ड पाउडर हल्का गर्म दूध /पानी के साथ
सलाहयदि मरीज को चाय की आदत है तो इसके स्थान पर कप पतंजलि दिव्य पेय दे सकते हैं 

थायरॉयड के दौरान जीवनशैली (Your Lifestyle in Thyroid Disease)

थायरॉयड होने पर आपकी जीवनशैली ऐसी होनी चाहिएः-
  • तनाव मुक्त जीवन जीने की कोशिश करें।
  • योगासन करें।
  • जंक फूड एवं प्रिजरवेटिव युक्त आहार को नहीं खाएं।
  • धूम्रपान, एल्कोहल आदि नशीले पदार्थों से बचें।
  • टहलें, हल्का व्यायाम करें।
  • रात में ना जागें।
  • धूप का सेवन करें।
  • उपवास करें।

थायरॉयड में ध्यान रखने योग्य बातें (Points to Remember in Thyroid Disease)

थायरॉयड होने पर आपका इन बातों का ध्यान देना चाहिएः-
(1) ध्यान एवं योग का अभ्यास रोज करें।
(2) ताजा एवं हल्का गर्म भोजन अवश्य करें।
(3) भोजन धीरे-धीरे शांत स्थान में शांतिपूर्वक, सकारात्मक एवं खुश मन से करें।
(4) तीन से चार बार भोजन अवश्य करें।
(5) किसी भी समय का भोजन नहीं त्यागें एवं अत्यधिक भोजन से परहेज करें।
(6) हफ्ते में एक बार उपवास करें।
(7) अमाशय का 1/3rd / 1/4th भाग रिक्त छोड़ें।
(8) भोजन को अच्छी प्रकार से चबाकर एवं धीरे-धीरे खाएं।
(9) भोजन लेने के बाद 3-5 मिनट टहलें।
(10) सूर्यादय से पहले [5:30 – 6:30 am] जाग जाएं।
(11) रोज दो बार दांतों को साफ करें।
(12) रोज जिव्हा करें।
(13) भोजन लेने के बाद थोड़ा टहलें।
(14) रात में सही समय [9-10 PM] पर नींद लें। 

थायरॉयड में योग और आसन (Yoga and Asana in Thyroid)

थायरॉयड होने पर आपको ये योग और आसन करना चाहिएः-
  • योग प्राणायाम एवं ध्यानभस्त्रिकाकपालभांतिबाह्यप्राणायामअनुलोम विलोमभ्रामरीउदगीथउज्जायीप्रनव जप
  • आसन सूक्ष्म व्यायामसूर्यनमस्कारउत्तानपादासनभुजंगासनमर्कटासनशशांकासनशवासन,पश्चिमोत्तानासन, सिंहासन 

Post a Comment

Previous Post Next Post