Halaman

    Social Items

मस्कुलर डिस्ट्रॉफी के लिए आहार दिनचर्या
 1.प्रातः सुबह उठकर दन्तधावन (बिना कुल्ला कियेसे पूर्व खाली पेट 1-2 गिलास गुनगुना पानी एवं नाश्ते से पूर्व पतंजलि आवंला व एलोवेरा स्वरस पियें |  
संतुलित  योजना
समयआहार योजना शाकाहार )
नाश्ता (8 :30 AM)कप पतंजलिदिव्य पेय पतंजलि /1- कप दूध पतंजलि पावर वीटा पोहा /उपमापतंजलि दलिया /ओट्स कटोरीअंकुरित अनाज (मूँगमेथीअजवाइन) 1 प्लेट ताजे मौसमी फलो का सलाद (तरबूजअंगूरअमरुदकेलासेबअनारपका आमखजूर)/ 1 गिलास फलों का ताजा जूस (आंवलाअनार, चकुंदर)  
दिन का भोजन     (12:30-01:30) PM2-3 पतली रोटियां (पतंजलि मिश्रित अनाज आटा ) + 1 कटोरी हरी सब्जियां (उबली हुई ) + 1 कटोरी दाल (पतली), 1 कटोरी चावल (मांड रहित) + 1 कटोरी दही, 1 प्लेट सलाद |
सांयकालीन          (05:30-6:00pm)कप दिव्य पेय पतंजलि + 1-2 पतंजलि आरोग्य बिस्कुट 1- कटोरी सब्जियों का सूप /सलाद /सूखे मेवे
रात्रि का भोजन
(7: 00 – 8:00 Pm)
1-2  पतली रोटियां (पतंजलि  मिश्रित अनाज आटा ) + 1/2 कटोरी हरी सब्जिया (उबली हुई ) + 1 कटोरी मूंग दाल (पतली ) + 50gm पनीर (ताजा)
30mint. सोने के पहले1- गिलास दूध पतंजलि बदामपाक /पॉवरवीटा के साथ |
पथ्य आहार (जो लेना है)
अनाजपुराना चावलजौमक्कागेहूबाजरा |
दाले:   सेममटरसोयाबीनलोबियाकाला चनाराजमामूंग, उड़दअरहर |
फल एवं सब्जियां: परवललौकीतरोईकरेलाकददूब्रोकलीपत्तागोभीगाजरचुकंदरबादामअखरोटकददू के बीजखजूरअंजीरकिसमिसआमअंगूर (काले), करोंदाअनार |
अन्यगोक्षुरगिलोयत्रिफलाअजवायन पाउडरजीराहल्दीयस्टिमधुशतावरीआवला,नरियल एवं नारियल का दूध। रसायन जैसे च्यवनप्राशमूसलीपाकरसायनवटीकुष्मांडवलेह,  
जीवन शैली……
योग प्राणायाम एवं ध्यानभस्त्रिकाकपालभांतिबाह्यप्राणायामअनुलोम विलोमभ्रामरीउदगीथउज्जायीप्रनव जप
आसनसूक्ष्म व्यायाम
अपथ्य (जो नहीं लेना है)
अनाजमैदानवीन चावल I  
दाले: काबुली चना |
फल एवं सब्जियां:  आलूफूलगोभीटमाटरनीम्बूसंतरा,  बैंगनकटहल,
अन्य: तला हुआमसालेदार एवं कठनाई से पचने वाला भोजनदहीछोलेधूप /गर्मी में ज्यादा देर तक रहनामधपानकढ़ीजंकफ़ूडशीतल पेय,ज्यादा सवारी (वाहनइत्यादि |
सख्त मनातैलीय मसालेदार भोजनअचारअधिक नमककोल्डड्रिंक्समैदे वाले पदार्थशराबफास्टफूडसॉफ्टड्रिंक्सजंक फ़ूडडिब्बा बंद खाद्य पदार्थ।
जीवन शैलीअध्यासनअति व्यायामगुस्साचिंताआसमान में  बादल होने पर ठन्डे पानी का सेवनपूर्वी हवाओं का सेवनदिन में सोनाअधारणीय वेगों को रोकना आदि |
योग प्राणायाम एवं ध्यान– वैद्यानिर्देशानुसार
आसन– वैद्यानिर्देशानुसार
सलाहयदि मरीज को चाय की आदत है तो इसके स्थान पर कप पतंजलि दिव्य पेय ले सकते हैं |
नियमित  रूप से अपनाये :-
(1) ध्यान एवं योग का अभ्यास प्रतिदिन करे (2) ताजा एवं हल्का गर्म भोजन अवश्य करे (3) भोजन धीरे धीरे शांत स्थान मे शांतिपूर्वकसकारात्मक एवं खुश मन से करे (4) तीन से चार बार भोजन अवश्य करे (5) किसी भी समय का भोजन नहीं त्यागे एवं अत्यधिक भोजन से परहेज करे (6) हफ्ते मे एक बार उपवास करे
(7) अमाशय का 1/3rd / 1/4th भाग रिक्त छोड़े (8) भोजन को अच्छी प्रकार से चबाकर एवं धीरेधीरे खाये (9) भोजन लेने के पश्चात 3-5 मिनट टहले (10) सूर्यादय से पूर्व साथ जाग जाये [5:30 – 6:30 am] (11) प्रतिदिन दो बार दन्त धावन करे (12) प्रतिदिन जिव्हा निर्लेखन करे (13) भोजन लेने के पश्चात थोड़ा टहले एवं रात्रि मे सही समय पर नींद लें [9-10 PM]

Diet Plan for Muscular Dystrophy: मस्कुलर डिस्ट्रॉफी के लिए आहार दिनचर्या- Patanjali

मस्कुलर डिस्ट्रॉफी के लिए आहार दिनचर्या
 1.प्रातः सुबह उठकर दन्तधावन (बिना कुल्ला कियेसे पूर्व खाली पेट 1-2 गिलास गुनगुना पानी एवं नाश्ते से पूर्व पतंजलि आवंला व एलोवेरा स्वरस पियें |  
संतुलित  योजना
समयआहार योजना शाकाहार )
नाश्ता (8 :30 AM)कप पतंजलिदिव्य पेय पतंजलि /1- कप दूध पतंजलि पावर वीटा पोहा /उपमापतंजलि दलिया /ओट्स कटोरीअंकुरित अनाज (मूँगमेथीअजवाइन) 1 प्लेट ताजे मौसमी फलो का सलाद (तरबूजअंगूरअमरुदकेलासेबअनारपका आमखजूर)/ 1 गिलास फलों का ताजा जूस (आंवलाअनार, चकुंदर)  
दिन का भोजन     (12:30-01:30) PM2-3 पतली रोटियां (पतंजलि मिश्रित अनाज आटा ) + 1 कटोरी हरी सब्जियां (उबली हुई ) + 1 कटोरी दाल (पतली), 1 कटोरी चावल (मांड रहित) + 1 कटोरी दही, 1 प्लेट सलाद |
सांयकालीन          (05:30-6:00pm)कप दिव्य पेय पतंजलि + 1-2 पतंजलि आरोग्य बिस्कुट 1- कटोरी सब्जियों का सूप /सलाद /सूखे मेवे
रात्रि का भोजन
(7: 00 – 8:00 Pm)
1-2  पतली रोटियां (पतंजलि  मिश्रित अनाज आटा ) + 1/2 कटोरी हरी सब्जिया (उबली हुई ) + 1 कटोरी मूंग दाल (पतली ) + 50gm पनीर (ताजा)
30mint. सोने के पहले1- गिलास दूध पतंजलि बदामपाक /पॉवरवीटा के साथ |
पथ्य आहार (जो लेना है)
अनाजपुराना चावलजौमक्कागेहूबाजरा |
दाले:   सेममटरसोयाबीनलोबियाकाला चनाराजमामूंग, उड़दअरहर |
फल एवं सब्जियां: परवललौकीतरोईकरेलाकददूब्रोकलीपत्तागोभीगाजरचुकंदरबादामअखरोटकददू के बीजखजूरअंजीरकिसमिसआमअंगूर (काले), करोंदाअनार |
अन्यगोक्षुरगिलोयत्रिफलाअजवायन पाउडरजीराहल्दीयस्टिमधुशतावरीआवला,नरियल एवं नारियल का दूध। रसायन जैसे च्यवनप्राशमूसलीपाकरसायनवटीकुष्मांडवलेह,  
जीवन शैली……
योग प्राणायाम एवं ध्यानभस्त्रिकाकपालभांतिबाह्यप्राणायामअनुलोम विलोमभ्रामरीउदगीथउज्जायीप्रनव जप
आसनसूक्ष्म व्यायाम
अपथ्य (जो नहीं लेना है)
अनाजमैदानवीन चावल I  
दाले: काबुली चना |
फल एवं सब्जियां:  आलूफूलगोभीटमाटरनीम्बूसंतरा,  बैंगनकटहल,
अन्य: तला हुआमसालेदार एवं कठनाई से पचने वाला भोजनदहीछोलेधूप /गर्मी में ज्यादा देर तक रहनामधपानकढ़ीजंकफ़ूडशीतल पेय,ज्यादा सवारी (वाहनइत्यादि |
सख्त मनातैलीय मसालेदार भोजनअचारअधिक नमककोल्डड्रिंक्समैदे वाले पदार्थशराबफास्टफूडसॉफ्टड्रिंक्सजंक फ़ूडडिब्बा बंद खाद्य पदार्थ।
जीवन शैलीअध्यासनअति व्यायामगुस्साचिंताआसमान में  बादल होने पर ठन्डे पानी का सेवनपूर्वी हवाओं का सेवनदिन में सोनाअधारणीय वेगों को रोकना आदि |
योग प्राणायाम एवं ध्यान– वैद्यानिर्देशानुसार
आसन– वैद्यानिर्देशानुसार
सलाहयदि मरीज को चाय की आदत है तो इसके स्थान पर कप पतंजलि दिव्य पेय ले सकते हैं |
नियमित  रूप से अपनाये :-
(1) ध्यान एवं योग का अभ्यास प्रतिदिन करे (2) ताजा एवं हल्का गर्म भोजन अवश्य करे (3) भोजन धीरे धीरे शांत स्थान मे शांतिपूर्वकसकारात्मक एवं खुश मन से करे (4) तीन से चार बार भोजन अवश्य करे (5) किसी भी समय का भोजन नहीं त्यागे एवं अत्यधिक भोजन से परहेज करे (6) हफ्ते मे एक बार उपवास करे
(7) अमाशय का 1/3rd / 1/4th भाग रिक्त छोड़े (8) भोजन को अच्छी प्रकार से चबाकर एवं धीरेधीरे खाये (9) भोजन लेने के पश्चात 3-5 मिनट टहले (10) सूर्यादय से पूर्व साथ जाग जाये [5:30 – 6:30 am] (11) प्रतिदिन दो बार दन्त धावन करे (12) प्रतिदिन जिव्हा निर्लेखन करे (13) भोजन लेने के पश्चात थोड़ा टहले एवं रात्रि मे सही समय पर नींद लें [9-10 PM]

No comments