Halaman

    Social Items

टमाटर का परिचय (Introduction of Tomato) 

आम तौर पर टमाटर (tamatar) को सब्जी माना जाता है लेकिन वास्तव में यह फल होता है। टमाटर को फल कहे या सब्जी वह पोषण से भरपूर होता है। टमाटर न सिर्फ पौष्टिकारक होता है बल्कि खाने का फ्लेवर बढ़ाने के साथ-साथ स्वास्थ्यवर्द्धक होता है। टमाटर को रोज के आहार में शामिल करने से बहुत सारे बीमारियों से लड़ सकते हैं।
टमाटर के गुण के आधार पर इसके फायदे (tamatar ke fayde)अनगिनत होते हैं इसलिए टमाटर को आयुर्वेद में औषधि के रुप में प्रयोग किया जाता है। चलिये टमाटर के गुण के आधार पर जानते हैं कि ये किन-किन बीमारियों से लड़ने में फायदेमंद साबित होता है।

टमाटर क्या है? (What is Tomato in Hindi?)

आम तौर पर टमाटर को सब्जी मानकर लोग खाना में फ्लेवर लाने तक ही इसका इस्तेमाल करते हैं लेकिन टमाटर के कुछ औषधीय फायदे  (tamatar ke fayde) भी होते हैं। चलिये आगे इनके बारे में  विस्तार से जानते हैं।
लाल टमाटर ऊँचा, सीधा, विशेष गंधवाला, कंटकरहित, शाकीय पौधा होता है। इसके पत्ते असमान रुप से किनारों पर कटे हुए, आगे की तरफ नोंकदार तथा हरे रंग के होते हैं। इसके फूल पीले रंग के लगभग 1.6 सेमी व्यास या डाइमीटर के होते हैं।   इसके फल कच्ची अवस्था में हरे रंग के, पक्वे अवस्था में लाल रंग के, मांसल, 1.3-6 सेमी व्यास के गोल, चमकदार होते हैं। बीज चपटा, गोलाकार तथा वृक्काकार होते हैं। यह सितम्बर से मार्च महीने तक ज्यादा फलता-फूलता है।
लाल टमाटर खाने को स्वादिष्ट बनाने के साथ-साथ शक्ति भी प्रदान करता है। टमाटर का फल अम्ल यानि एसिडिक प्रकृति का , मधुर, खाना को जल्दी हजम करने में सहायक, शक्ति बढ़ाने वाला, पूयरोधी या एन्टीसेप्टिक, रक्त को शुद्ध करने वाला तथा उत्तेजक होता है।

अन्य भाषाओं में टमाटर के नाम (Name of Tomato in Different Languages)

टमाटर का वानास्पतिक नाम Lycopersicon esculentum Mill.  (लाइकोपर्सिकोन एस्कूलेन्टम) Syn-Lycopersicon lycopersicum (Linn.) Karsten, Solanum lycopersicum Linn है। टमाटर Solanaceae (सोलैनेसी) कुल का है। और इसका अंग्रेज़ी नाम : Tomato (टेमाटो) है।
लेकिन भारत के अन्य प्रांतों में टमाटर को कई नामों से पुकारा जाता है। जैसे-
Tomato in-
  • Sanskrit-रक्तवृन्ताक, रक्तमाची;
  • Hindi-टमाटर, गुड़ बैंगन, विलायती बैंगन;
  • Kannada– काप्पेरबदनेकाई (Chapperbadnekaia), काप्पराबादाने (Capparabadane);
  • Gujrati-टमेटा (Tameta);
  • Tamil- सीमे टेक्काली (Seemay Tekkali), टक्कूली (Takkali);
  • Teluguसीमावंगा (Simavanga);
  • Bengali-टमाटर (Tamatar), बिलायती बेगून (Belathi begoon);  
  • Nepali-गोल भेड़ा (Gol bheda)
  • Marathi-वेल वंगी (Velvangi);
  • Malayalamटककली (Takkali)।
  • English-लव ऐपल (Love apple), गोल्ड ऐपल (Gold apple);
  • Arbi-टमाटम (Tamatum), ट्माटेम (Tmatem)।

टमाटर  के फायदे (Benefits and Uses of Tomatoes in Hindi)

लाल टमाटर में विटामिन सी, विटामिन के, विटामिन ए, पोटाशियम, नियासिन, विटामिन बी6, मैग्निशियम, फॉस्फोरस, ताँबा आदि मिलता है जो उसको कई तरह के बीमारियों से लड़ने के लिए मदद करता है। टमाटर के औषधीय गुणों (benefits of tomato in hindi) के बारे में जानते है।


गले की सूजन कम करे टमाटर (Tomatoes Benefits in Sore Throat in Hindi)

 ठंड लगने पर यदि गले में दर्द हुआ है तो लाल टमाटर के फल का काढ़ा बनाकर 10-30 मिली मात्रा में पीने से मुख तथा गले की सूजन में लाभ मिलता है।
और पढ़े: गले के दर्द को दूर करे सेम की फली

मसूड़ों का ब्लीडिंग रोकने में मददगार टमाटर (Benefits of Tamatar to Get Relieves from Bleeding Gums in Hindi)

टमाटर के रस (tamatar ka juice) में पानी मिलाकर गरारा करने से मसूड़ों से होने वाला ब्लीडिंग कम होता है।
और पढ़ें – ब्लीडिंग रोकने में दूर्वा घास के फायदे

सांस फूलने की समस्या से राहत दिलाये टमाटर का जूस (Tomato juice Beneficial in Breathlessness in Hindi)


सांस फूलने की बीमारी में लाल टमाटर के रस इस तरह से सेवन बहुत गुणकारी होता है।  10-15 मिली टमाटर फल के रस या टमाटर का सूप में एक चम्मच हरिद्रा मिलाकर सेवन करने से श्वास (साँस फूलना) रोग में लाभ होता है।

भूख बढ़ाये टमाटर (Benefit of Tomatoes for Loss of appetite in Hindi)

अगर किसी बीमारी के कारण खाने की इच्छा नहीं हो रही है तो लाल टमाटर का सेवन निम्न प्रकार से करने पर लाभ मिलता है। 30-40 मिली टमाटर फल-के रस का सेवन करने से  भूख न लगना, अत्यधिक प्यास और कब्ज में लाभ होता है। इसके अलावा टमाटर फल को भूनकर उसमें सेंधानमक तथा तथा काली मिर्च चूर्ण डालकर खाने से खाने की इच्छा बढ़ती है।
और पढ़ें – फैटी लिवर के इलाज में टमाटर के फायदे

कब्ज की परेशानी करे दूर टमाटर (Tomatoes Beneficial in Constipation in Hindi)

कब्ज से परेशान हैं? लाल टमाटर के मिश्रण को इस तरह से बनायें और सेवन करें। 10 मिली टमाटर फल के रस या टमाटर का सूप में नमक तथा कृष्ण मरिच मिलाकर सेवन करने से मिचली आना, पित्त बढ़ने की बीमारी, कब्ज, आमाशय तथा आंतों की जलन आदि रोगों में फायदा मिलता है। इसके अलावा 10-20 मिली फल के रस में शर्करा मिलाकर सेवन करने से विबन्ध (कब्ज) में लाभ होता है।
और पढ़ें: कब्ज में टिंडा के फायदे

 इरिटेबल बाउल सिंड्रोम में फायदेमंद टमाटर (Benefits of Tamatar deals with Irritable Bowel Syndrome in hindi)

पेट की गड़बड़ी से अगर हमेशा परेशान रहते हैं तो लाल टमाटर का सेवन इस तरह से करें। टमाटर फल को बीच से काटकर उसमें 1-2 ग्राम कुटज चूर्ण डालकर खिलाने से अतिसार या दस्त और इरिटेबल बाउल सिंड्रोम में लाभ होता है।

डायबिटीज को नियंत्रित करने में सहायक टमाटर ( Tomato to Control Diabetes  in Hindi)

आजकल के जीवनशैली की देन है डायबिटिज। डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए टमाटर के जूस या टोमेटो सूप का सेवन करना फायदेमंद (tamatar ke fayde) साबित होता है। टमाटर जूस का सेवन (tomato juice benefits in hindi) करने से मधुमेह में लाभ होता है।
और पढ़ें – मधुमेह में विधारा के फायदे

गठिया से दिलाये राहत टमाटर (Benefits of Tamatar in Gout in hindi)

टमाटर के पत्ते को उबालकर, पीसकर लेप करने से आमवात तथा वातरक्त या गठिया में लाभ होता है।

जोड़ो के दर्द से दिलाये आराम टमाटर (Tomatoes Beneficial in Joint pain in Hindi)

आजकल हर उम्र के लोग जोड़ो के दर्द से परेशान रहते हैं। टमाटर का जड़ और पत्ता दर्द को कम करने में सहायता करता है। जड़ तथा पत्तों से सिद्ध तेल को संधियों में लगाने से दर्द तथा मोच में लाभ मिलता है।
और पढ़े – मोच में निर्गुण्डी के फायदे  

त्वचा संबंधी रोगों में सहायक टमाटर (Tomato Benefits in Skin Disease in Hindi)

टमाटर त्वचा संबंधी रोगों में बहुत असरदार तरीके से काम करता है।  टमाटर के पत्तों को पीसकर लगाने से घाव, रोमकूप संबंधी सूजन तथा अन्य त्वचा संबंधी समस्याओं में लाभ होता है।
और पढ़े: गोरे होने के घरेलू नुस्खे

मुँहासों से दिलाये छुटकारा टमाटर (Tomato Juice to Treat Pimples in Hindi)


मुँहासों किशोरावस्था आने का पहला लक्षण होता है। सभी लड़की और लड़का मुँहासों से परेशान रहते हैं। टमाटर के पत्तों तथा फलमज्जा को पीसकर लगाने से मुंहासे तथा त्वचा की बीमारियों में लाभ होता है।

मुँह के दाग-धब्बों में फायदेमंद टमाटर (Benefits of Tomato to Get Rid from Black Spots in Hindi)

अगर दाग- धब्बों से है परेशान तो टमाटर को काटकर मुख में मलने से मुख के काले दाग ठीक हो जाते हैं।

बालों के लिए फायदेमंद टमाटर ( Benefit of Tomato juice for Healthy hair in hindi)

 अगर बालों मे लाना है शाइनी लुक तो टमाटर के रस या टोमेटो सूप में कपूर व नारियल तेल मिलाकर सिर में लगाने से लाभ होता है।
और पढ़ें – पिनवार्म कम करने में अरंडी और नारियल तेल फायदेमंद

कमजोरी से लड़ने में मदद करता है टमाटर (Tamatar to Fight Weakness  in Hindi)

10-20 मिली टमाटर फल के रस या टोमेटो सूप में शर्करा मिलाकर सेवन करने से शारीरिक व मानसिक कमजोरी, अवसाद तथा नींद न आने के कारण जो परेशानी होती है उससे राहत मिलता है।

बुखार से दिलाये राहत टमाटर (Tomato to Deal with Fever  in Hindi)

अगर बुखार से आराम पाने चाहते हैं तो टमाटर के रस या टोमेटो सूप का सेवन इस तरह से करना चाहिए। 10-15 मिली टमाटर के रस का सेवन करने से बुखार तथा प्यास की परेशानी से राहत मिलती है। 

गर्भावस्था में फायदेमंद टमाटर (Tomato Beneficial during Pregnancy in Hindi)

गर्भावस्था में टमाटर का उपयोग फायदेमंद होता है, क्योंकि ये विटामिन-सी का मुख्य स्रोत होने के साथ-साथ इसमें आयरन भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। 

कफ से राहत पाने में टमाटर फायदेमंद (Tomato Benefit to Get Relief from Cough in Hindi)

कफ और कोल्ड यानि सर्दी-खांसी होने पर टमाटर का उपयोग फायदेमंद हो सकता है, क्योंकि टमाटर में पाये जाने वाला विटामिन-सी रोग -प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ाकर कफ और कोल्ड के लक्षणों को कम करने में मदद करता है।

बच्चों के विकास के लिए टमाटर बहुत फायदेमंद (Tomato Beneficial for Child Growth in Hindi)

बच्चों के विकास के लिए टमाटर का उपयोग बहुत फायदेमंद होता है, क्योंकि टमाटर में पाये जाने वाले विटामिन-सी और अन्य पोषक तत्व बच्चों के विकास में मदद करते है।

हड्डियों को मजबूत बनाये रखने में टमाटर लाभकारी ( Tomato Beneficial for Bone Growth in Hindi)

हड्डियों की मजबूती के लिए टमाटर का सेवन फायदेमंद होता है, क्योंकि टमाटर में कैल्शियम के साथ -साथ विटामिन ‘के’ पाया जाता है जो कि हड्डियों को मजबूती प्रदान करने में सहायक होता है। 

वजन घटाने मे टमाटर के फायदे ( Tomato Beneficial for Weight Loss in Hindi)

अगर आप का वजन बढ़ रहा है तो आपके लिये एक टमाटर का सेवन फायदेमंद हो सकता है, क्योंकि टमाटर में 95 प्रतिशत जलीय तत्व होता है साथ हि इसमें ड्यूरेटिक का गुण भी पाया जाता है जो कि शरीर की गंदगी को बाहर निकाल कर वजन को कम करने में मदद करता है। 

मोटापा कम करने में टमाटर लाभकारी (Tomato Beneficial to Treat Obesity in Hindi)

टमाटर का रस मोटापा कम करने में मदद करता है क्योंकि इसमें ड्यूरेटिक का गुण पाया जाता है जो कि शरीर के गंदगी को बाहर कर वजन को कम करने में मदद करता है। 

बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास में टमाटर फायदेमंद (Tomato Beneficial for Physical and Mental of Child in Hindi)

बच्चों को रोजाना टमाटर खिलाना फायदेमंद हो सकता है क्योंकि टमाटर में पाये जाने वाले पोषक तत्व बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए फायदेमंद होते है। 

टमाटर का उपयोगी भाग (Useful Parts of Tomato)

आयुर्वेद में टमाटर के फल और पत्ते का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है।

टमाटर का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए? (How to Use Tomato in Hindi?)

हर बीमारी के लिए टमाटर का सेवन और इस्तेमाल कैसे करना चाहिए, इसके बारे में पहले ही बताया गया है। अगर आप किसी ख़ास बीमारी के इलाज के लिए टमाटर का उपयोग कर रहें हैं तो आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह ज़रूर लें।
 चिकित्सक के परामर्शानुसार –
-10-20 मिली रस का सेवन करना चाहिए।

टमाटर का सेवन ज्यादा करने के साइड इफेक्ट (Side effects of the Tomato)

इसके पत्ते विषाक्त  होते हैं। 100 ग्राम या अधिक मात्रा में सेवन करने पर हृदय का धड़कम धीमा होना, दर्द, ऐंठन,दस्त, सांस लेने में  समस्या, सिर दर्द, उल्टी एवं अत्यधिक मात्रा में सेवन करने पर सांस लेने में परेशानी होती है। 
सावधानी- पाइल्स के मरीज को टमाटर का सेवन नहीं करना चाहिए।
और पढ़े- उल्टी से राहत दिलाये तेजपत्ता

टमाटर कहां पाया या उगाया जाता है? (Where Tomato is Found or Grown in Hindi?)

यह मूलत उष्णकटिबंधीय दक्षिण अमेरिका के पश्चिमी क्षेत्रों में पाया जाता है, परन्तु अब सर्वत्र भारत में इसकी खेती की जाती है। इसका प्रयोग साग, टमाटर की चटनी, सलाद तथा टोमैटो सूप आदि के रूप में किया जाता है।  
और पढ़ें –
  • गले के दर्द का इलाज टमाटर से
  • गुलाबी होंठो के लिए टमाटर के फायदे
  • टमाटर उच्च रक्तचाप में फायदेमंद

Tomatoes: ईश्वर का वरदान है टमाटर

टमाटर का परिचय (Introduction of Tomato) 

आम तौर पर टमाटर (tamatar) को सब्जी माना जाता है लेकिन वास्तव में यह फल होता है। टमाटर को फल कहे या सब्जी वह पोषण से भरपूर होता है। टमाटर न सिर्फ पौष्टिकारक होता है बल्कि खाने का फ्लेवर बढ़ाने के साथ-साथ स्वास्थ्यवर्द्धक होता है। टमाटर को रोज के आहार में शामिल करने से बहुत सारे बीमारियों से लड़ सकते हैं।
टमाटर के गुण के आधार पर इसके फायदे (tamatar ke fayde)अनगिनत होते हैं इसलिए टमाटर को आयुर्वेद में औषधि के रुप में प्रयोग किया जाता है। चलिये टमाटर के गुण के आधार पर जानते हैं कि ये किन-किन बीमारियों से लड़ने में फायदेमंद साबित होता है।

टमाटर क्या है? (What is Tomato in Hindi?)

आम तौर पर टमाटर को सब्जी मानकर लोग खाना में फ्लेवर लाने तक ही इसका इस्तेमाल करते हैं लेकिन टमाटर के कुछ औषधीय फायदे  (tamatar ke fayde) भी होते हैं। चलिये आगे इनके बारे में  विस्तार से जानते हैं।
लाल टमाटर ऊँचा, सीधा, विशेष गंधवाला, कंटकरहित, शाकीय पौधा होता है। इसके पत्ते असमान रुप से किनारों पर कटे हुए, आगे की तरफ नोंकदार तथा हरे रंग के होते हैं। इसके फूल पीले रंग के लगभग 1.6 सेमी व्यास या डाइमीटर के होते हैं।   इसके फल कच्ची अवस्था में हरे रंग के, पक्वे अवस्था में लाल रंग के, मांसल, 1.3-6 सेमी व्यास के गोल, चमकदार होते हैं। बीज चपटा, गोलाकार तथा वृक्काकार होते हैं। यह सितम्बर से मार्च महीने तक ज्यादा फलता-फूलता है।
लाल टमाटर खाने को स्वादिष्ट बनाने के साथ-साथ शक्ति भी प्रदान करता है। टमाटर का फल अम्ल यानि एसिडिक प्रकृति का , मधुर, खाना को जल्दी हजम करने में सहायक, शक्ति बढ़ाने वाला, पूयरोधी या एन्टीसेप्टिक, रक्त को शुद्ध करने वाला तथा उत्तेजक होता है।

अन्य भाषाओं में टमाटर के नाम (Name of Tomato in Different Languages)

टमाटर का वानास्पतिक नाम Lycopersicon esculentum Mill.  (लाइकोपर्सिकोन एस्कूलेन्टम) Syn-Lycopersicon lycopersicum (Linn.) Karsten, Solanum lycopersicum Linn है। टमाटर Solanaceae (सोलैनेसी) कुल का है। और इसका अंग्रेज़ी नाम : Tomato (टेमाटो) है।
लेकिन भारत के अन्य प्रांतों में टमाटर को कई नामों से पुकारा जाता है। जैसे-
Tomato in-
  • Sanskrit-रक्तवृन्ताक, रक्तमाची;
  • Hindi-टमाटर, गुड़ बैंगन, विलायती बैंगन;
  • Kannada– काप्पेरबदनेकाई (Chapperbadnekaia), काप्पराबादाने (Capparabadane);
  • Gujrati-टमेटा (Tameta);
  • Tamil- सीमे टेक्काली (Seemay Tekkali), टक्कूली (Takkali);
  • Teluguसीमावंगा (Simavanga);
  • Bengali-टमाटर (Tamatar), बिलायती बेगून (Belathi begoon);  
  • Nepali-गोल भेड़ा (Gol bheda)
  • Marathi-वेल वंगी (Velvangi);
  • Malayalamटककली (Takkali)।
  • English-लव ऐपल (Love apple), गोल्ड ऐपल (Gold apple);
  • Arbi-टमाटम (Tamatum), ट्माटेम (Tmatem)।

टमाटर  के फायदे (Benefits and Uses of Tomatoes in Hindi)

लाल टमाटर में विटामिन सी, विटामिन के, विटामिन ए, पोटाशियम, नियासिन, विटामिन बी6, मैग्निशियम, फॉस्फोरस, ताँबा आदि मिलता है जो उसको कई तरह के बीमारियों से लड़ने के लिए मदद करता है। टमाटर के औषधीय गुणों (benefits of tomato in hindi) के बारे में जानते है।


गले की सूजन कम करे टमाटर (Tomatoes Benefits in Sore Throat in Hindi)

 ठंड लगने पर यदि गले में दर्द हुआ है तो लाल टमाटर के फल का काढ़ा बनाकर 10-30 मिली मात्रा में पीने से मुख तथा गले की सूजन में लाभ मिलता है।
और पढ़े: गले के दर्द को दूर करे सेम की फली

मसूड़ों का ब्लीडिंग रोकने में मददगार टमाटर (Benefits of Tamatar to Get Relieves from Bleeding Gums in Hindi)

टमाटर के रस (tamatar ka juice) में पानी मिलाकर गरारा करने से मसूड़ों से होने वाला ब्लीडिंग कम होता है।
और पढ़ें – ब्लीडिंग रोकने में दूर्वा घास के फायदे

सांस फूलने की समस्या से राहत दिलाये टमाटर का जूस (Tomato juice Beneficial in Breathlessness in Hindi)


सांस फूलने की बीमारी में लाल टमाटर के रस इस तरह से सेवन बहुत गुणकारी होता है।  10-15 मिली टमाटर फल के रस या टमाटर का सूप में एक चम्मच हरिद्रा मिलाकर सेवन करने से श्वास (साँस फूलना) रोग में लाभ होता है।

भूख बढ़ाये टमाटर (Benefit of Tomatoes for Loss of appetite in Hindi)

अगर किसी बीमारी के कारण खाने की इच्छा नहीं हो रही है तो लाल टमाटर का सेवन निम्न प्रकार से करने पर लाभ मिलता है। 30-40 मिली टमाटर फल-के रस का सेवन करने से  भूख न लगना, अत्यधिक प्यास और कब्ज में लाभ होता है। इसके अलावा टमाटर फल को भूनकर उसमें सेंधानमक तथा तथा काली मिर्च चूर्ण डालकर खाने से खाने की इच्छा बढ़ती है।
और पढ़ें – फैटी लिवर के इलाज में टमाटर के फायदे

कब्ज की परेशानी करे दूर टमाटर (Tomatoes Beneficial in Constipation in Hindi)

कब्ज से परेशान हैं? लाल टमाटर के मिश्रण को इस तरह से बनायें और सेवन करें। 10 मिली टमाटर फल के रस या टमाटर का सूप में नमक तथा कृष्ण मरिच मिलाकर सेवन करने से मिचली आना, पित्त बढ़ने की बीमारी, कब्ज, आमाशय तथा आंतों की जलन आदि रोगों में फायदा मिलता है। इसके अलावा 10-20 मिली फल के रस में शर्करा मिलाकर सेवन करने से विबन्ध (कब्ज) में लाभ होता है।
और पढ़ें: कब्ज में टिंडा के फायदे

 इरिटेबल बाउल सिंड्रोम में फायदेमंद टमाटर (Benefits of Tamatar deals with Irritable Bowel Syndrome in hindi)

पेट की गड़बड़ी से अगर हमेशा परेशान रहते हैं तो लाल टमाटर का सेवन इस तरह से करें। टमाटर फल को बीच से काटकर उसमें 1-2 ग्राम कुटज चूर्ण डालकर खिलाने से अतिसार या दस्त और इरिटेबल बाउल सिंड्रोम में लाभ होता है।

डायबिटीज को नियंत्रित करने में सहायक टमाटर ( Tomato to Control Diabetes  in Hindi)

आजकल के जीवनशैली की देन है डायबिटिज। डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए टमाटर के जूस या टोमेटो सूप का सेवन करना फायदेमंद (tamatar ke fayde) साबित होता है। टमाटर जूस का सेवन (tomato juice benefits in hindi) करने से मधुमेह में लाभ होता है।
और पढ़ें – मधुमेह में विधारा के फायदे

गठिया से दिलाये राहत टमाटर (Benefits of Tamatar in Gout in hindi)

टमाटर के पत्ते को उबालकर, पीसकर लेप करने से आमवात तथा वातरक्त या गठिया में लाभ होता है।

जोड़ो के दर्द से दिलाये आराम टमाटर (Tomatoes Beneficial in Joint pain in Hindi)

आजकल हर उम्र के लोग जोड़ो के दर्द से परेशान रहते हैं। टमाटर का जड़ और पत्ता दर्द को कम करने में सहायता करता है। जड़ तथा पत्तों से सिद्ध तेल को संधियों में लगाने से दर्द तथा मोच में लाभ मिलता है।
और पढ़े – मोच में निर्गुण्डी के फायदे  

त्वचा संबंधी रोगों में सहायक टमाटर (Tomato Benefits in Skin Disease in Hindi)

टमाटर त्वचा संबंधी रोगों में बहुत असरदार तरीके से काम करता है।  टमाटर के पत्तों को पीसकर लगाने से घाव, रोमकूप संबंधी सूजन तथा अन्य त्वचा संबंधी समस्याओं में लाभ होता है।
और पढ़े: गोरे होने के घरेलू नुस्खे

मुँहासों से दिलाये छुटकारा टमाटर (Tomato Juice to Treat Pimples in Hindi)


मुँहासों किशोरावस्था आने का पहला लक्षण होता है। सभी लड़की और लड़का मुँहासों से परेशान रहते हैं। टमाटर के पत्तों तथा फलमज्जा को पीसकर लगाने से मुंहासे तथा त्वचा की बीमारियों में लाभ होता है।

मुँह के दाग-धब्बों में फायदेमंद टमाटर (Benefits of Tomato to Get Rid from Black Spots in Hindi)

अगर दाग- धब्बों से है परेशान तो टमाटर को काटकर मुख में मलने से मुख के काले दाग ठीक हो जाते हैं।

बालों के लिए फायदेमंद टमाटर ( Benefit of Tomato juice for Healthy hair in hindi)

 अगर बालों मे लाना है शाइनी लुक तो टमाटर के रस या टोमेटो सूप में कपूर व नारियल तेल मिलाकर सिर में लगाने से लाभ होता है।
और पढ़ें – पिनवार्म कम करने में अरंडी और नारियल तेल फायदेमंद

कमजोरी से लड़ने में मदद करता है टमाटर (Tamatar to Fight Weakness  in Hindi)

10-20 मिली टमाटर फल के रस या टोमेटो सूप में शर्करा मिलाकर सेवन करने से शारीरिक व मानसिक कमजोरी, अवसाद तथा नींद न आने के कारण जो परेशानी होती है उससे राहत मिलता है।

बुखार से दिलाये राहत टमाटर (Tomato to Deal with Fever  in Hindi)

अगर बुखार से आराम पाने चाहते हैं तो टमाटर के रस या टोमेटो सूप का सेवन इस तरह से करना चाहिए। 10-15 मिली टमाटर के रस का सेवन करने से बुखार तथा प्यास की परेशानी से राहत मिलती है। 

गर्भावस्था में फायदेमंद टमाटर (Tomato Beneficial during Pregnancy in Hindi)

गर्भावस्था में टमाटर का उपयोग फायदेमंद होता है, क्योंकि ये विटामिन-सी का मुख्य स्रोत होने के साथ-साथ इसमें आयरन भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। 

कफ से राहत पाने में टमाटर फायदेमंद (Tomato Benefit to Get Relief from Cough in Hindi)

कफ और कोल्ड यानि सर्दी-खांसी होने पर टमाटर का उपयोग फायदेमंद हो सकता है, क्योंकि टमाटर में पाये जाने वाला विटामिन-सी रोग -प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ाकर कफ और कोल्ड के लक्षणों को कम करने में मदद करता है।

बच्चों के विकास के लिए टमाटर बहुत फायदेमंद (Tomato Beneficial for Child Growth in Hindi)

बच्चों के विकास के लिए टमाटर का उपयोग बहुत फायदेमंद होता है, क्योंकि टमाटर में पाये जाने वाले विटामिन-सी और अन्य पोषक तत्व बच्चों के विकास में मदद करते है।

हड्डियों को मजबूत बनाये रखने में टमाटर लाभकारी ( Tomato Beneficial for Bone Growth in Hindi)

हड्डियों की मजबूती के लिए टमाटर का सेवन फायदेमंद होता है, क्योंकि टमाटर में कैल्शियम के साथ -साथ विटामिन ‘के’ पाया जाता है जो कि हड्डियों को मजबूती प्रदान करने में सहायक होता है। 

वजन घटाने मे टमाटर के फायदे ( Tomato Beneficial for Weight Loss in Hindi)

अगर आप का वजन बढ़ रहा है तो आपके लिये एक टमाटर का सेवन फायदेमंद हो सकता है, क्योंकि टमाटर में 95 प्रतिशत जलीय तत्व होता है साथ हि इसमें ड्यूरेटिक का गुण भी पाया जाता है जो कि शरीर की गंदगी को बाहर निकाल कर वजन को कम करने में मदद करता है। 

मोटापा कम करने में टमाटर लाभकारी (Tomato Beneficial to Treat Obesity in Hindi)

टमाटर का रस मोटापा कम करने में मदद करता है क्योंकि इसमें ड्यूरेटिक का गुण पाया जाता है जो कि शरीर के गंदगी को बाहर कर वजन को कम करने में मदद करता है। 

बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास में टमाटर फायदेमंद (Tomato Beneficial for Physical and Mental of Child in Hindi)

बच्चों को रोजाना टमाटर खिलाना फायदेमंद हो सकता है क्योंकि टमाटर में पाये जाने वाले पोषक तत्व बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए फायदेमंद होते है। 

टमाटर का उपयोगी भाग (Useful Parts of Tomato)

आयुर्वेद में टमाटर के फल और पत्ते का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है।

टमाटर का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए? (How to Use Tomato in Hindi?)

हर बीमारी के लिए टमाटर का सेवन और इस्तेमाल कैसे करना चाहिए, इसके बारे में पहले ही बताया गया है। अगर आप किसी ख़ास बीमारी के इलाज के लिए टमाटर का उपयोग कर रहें हैं तो आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह ज़रूर लें।
 चिकित्सक के परामर्शानुसार –
-10-20 मिली रस का सेवन करना चाहिए।

टमाटर का सेवन ज्यादा करने के साइड इफेक्ट (Side effects of the Tomato)

इसके पत्ते विषाक्त  होते हैं। 100 ग्राम या अधिक मात्रा में सेवन करने पर हृदय का धड़कम धीमा होना, दर्द, ऐंठन,दस्त, सांस लेने में  समस्या, सिर दर्द, उल्टी एवं अत्यधिक मात्रा में सेवन करने पर सांस लेने में परेशानी होती है। 
सावधानी- पाइल्स के मरीज को टमाटर का सेवन नहीं करना चाहिए।
और पढ़े- उल्टी से राहत दिलाये तेजपत्ता

टमाटर कहां पाया या उगाया जाता है? (Where Tomato is Found or Grown in Hindi?)

यह मूलत उष्णकटिबंधीय दक्षिण अमेरिका के पश्चिमी क्षेत्रों में पाया जाता है, परन्तु अब सर्वत्र भारत में इसकी खेती की जाती है। इसका प्रयोग साग, टमाटर की चटनी, सलाद तथा टोमैटो सूप आदि के रूप में किया जाता है।  
और पढ़ें –
  • गले के दर्द का इलाज टमाटर से
  • गुलाबी होंठो के लिए टमाटर के फायदे
  • टमाटर उच्च रक्तचाप में फायदेमंद

No comments